Cement & Sariya Rate Down: फटाफट बनवालें घर, सस्ता हुआ सीमेंट और सरिया

आज के इस आर्टिकल में हम सभी लोग सरिया और सीमेंट के मूल्यों पर विस्तार पूर्वक बातें करने वाले हैं, यदि आप भी कंस्ट्रक्शन कार्य में संलग्न रहने वाले व्यक्ति हैं.

तो आपके लिए हमारा यह पोस्ट बहुत ही ज्यादा आवश्यक सिद्ध होने वाला है‌, इसके साथ ही हम इस बात पर भी चर्चा करेंगे कि आप कितने रुपयों की बचत इस अनुकूल समयावधि में कर सकते हैं.

बरसात के मौसम में

अभी-अभी बरसात के कारण देश के लगभग हर हिस्से में बहुत ही जोरदार वर्षा हो रही थी. इसका सीधा सीधा प्रभाव निर्माण गतिविधियों पर पड़ रहा था, जिस वजह से इनमें तेजी से गिरावट आई थी.

किंतु अब जब बरसात के समयावधि समाप्त हो चुकी है, तो लोगों के द्वारा निर्माण कार्य को पुनः से बड़े ही जोरों शोरों से प्रारंभ किया जा रहा है, इसके साथ ही सारे बड़े त्यौहार भी समाप्त हो चुके हैं, तो अब किसी भी प्रकार से कोई भी बाधा नहीं आएगी.

क्योंकि बरसात की समयावधि में निर्माण कार्य लगभग पूरी तरह से बंद हो चुके थे और कंस्ट्रक्शन मैटेरियल्स की मांग भी ना के बराबर की जा रही थी.

इस वजह से इसके मूल्य में नाटकीय ढंग से गिरावट देखने को मिली थी. कहने का यह अर्थ है की सरिया और सीमेंट के दाम बरसात के मौसम में रिकार्डतोड़ सस्ता हो गए थे.

बहुत भारी गिरावट आई

अब जाहिर सी बात है किसी भी वस्तु की यदि मांग में कमी आएगी तो उसके मूल्य में भी उसका सीधा प्रभाव देखने को मिलेगा. जब कंस्ट्रक्शन मैटेरियल की डिमांड कम हो गई तो उनके मूल्य भी कम कर दिए गए थे.

आपको बता दें कि बरसात की समयावधि में जिन भी लोगों ने कंस्ट्रक्शन मैटेरियल्स को खरीदा उन्होंने अच्छी खासी बचत कर ली थी, वैसे तो यह परिस्थिति अभी भी बरकरार है.

किंतु इससे पूर्व अभी कुछ दिनों पहले ही पुनः से इन के मूल्यों में तीव्रता देखने को मिली थी लेकिन अभी धीरे-धीरे यह फिर से कम हो चुकी है.

एक नजर इस्पात मंत्रालय के आंकड़ों पर

यदि बात की जाए इस्पात मंत्रालय के आंकड़ों की तो उनके मुताबिक टीएमटी सरिया का खुदरा भाव अप्रैल के प्रारंभ में ही ₹75,000 प्रति टन के आसपास में पहुंचा हुआ था. जो कि 15 जून को गिरकर के ₹65,000 प्रति टन पर आ पहुंचा है.

खुदरा बाजार के हिसाब से यदि देखा जाए तो अप्रैल में एक समय सरिया का भाव ₹82,000 प्रति टन पर जा पहुंचा था, जो अभी कम होकर के ₹50,000 से लेकर के ₹55,000 प्रति टन पर आ पहुंचा है.

इसका अर्थ यह निकलता है कि अप्रैल के रिकॉर्ड हाइक की तुलना में सरिया का भाव अभी लगभग-लगभग ₹30,000 प्रति टन के हिसाब से कम आंका गया है. सिर्फ लोकल ही नहीं अपितु ब्रांडेड सरिया का भाव भी पिछले कुछ दिनों में बहुत ही ज्यादा गिर चुका है.

मार्च 2022 में ब्रांडेड सरिया का रेट ₹1,00,000 प्रति टन पर जा पहुंचा था, जो अभी हाल फिलहाल में ₹80,000 प्रति टन से लेकर के ₹85,000 प्रति टन पर आ चुका है.

एक्सपोर्ट ड्यूटी में हुई थी वृद्धि

आपको इस बात से हम अवगत करवा दे कि सरकार ने स्टील पर एक्सपोर्ट ड्यूटी अभी हाल फिलहाल में बढ़ा दी थी. जिसके परिणाम स्वरूप घरेलू बाजार में सरिया के दाम बहुत ही तेजी से गिर गए थे.

सरिया के दामों में आई कमी के कारण कि यदि बात की जाए तो मुख्य यही कारण रहा है, इसके अतिरिक्त देश के कई हिस्सों में हो रही जोरदार बारिश के परिणाम स्वरुप भी निर्माण कार्यों में बहुत ही ज्यादा कमी आई थी.

जिसका सीधा प्रभाव डिमांड पर हुआ था मार्च-अप्रैल के दौरान सरिया का भाव रिकॉर्ड उच्च स्तर पर जा पहुंचा था, उसके पश्चात सरिया के भाव में बहुत ही तेजी से गिरावट देखने को मिली है.

लेकिन जून से इसकी कीमत पुनः से बढ़ने लगी है, इस के पिछले 2 महीने के दौरान सरिया और सीमेंट के दामों में भारी गिरावट आई है जिससे घर बनाना सस्ता हो गया हैं.

मूल्य अलग-अलग पाए जाते हैं

भारत के प्रमुख शहरों में सरिया के रेट अलग-अलग होते हैं, आयरन मार्ट वेबसाइट सरिया की कीमतों की घटाओ तथा वृद्धि पर नजर रखता है, तथा उसी आधार पर कीमतों का अपडेट प्रदान करता है.

उत्तर प्रदेश के कानपुर में सरिया का रेट सबसे तेजी से कम होता नजर आया है, अभी देश में सबसे सस्ता सरिया पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर और कोलकाता में बेचा जा रहा है.

वही यदि बात करें देश के अन्य क्षेत्रों की तो वहां पर इन स्थानों की तुलना में थोड़ी सी महंगी मूल्य दर पर सरिया और सीमेंट उपलब्ध है.

सीमेंट में भी आई गिरावट

अभी यदि बात करें सीमेंट की तो कंस्ट्रक्शन मैटेरियल्स में यह भी एक है, और इसके भी मूल्य में अभी हाल फिलहाल में गिरावट देखी जा सकती है. यदि आप सीमेंट और सरिया के नए भाव देखेंगे तो आपको सामान्य रूप से इनके दाम सस्ता मिलेंगे

₹400 प्रति बोरी में मिलने वाला बिरला उत्तम सीमेंट में अभी ₹20 की कमी की गई है, अर्थात अब ₹380 में बाजारों में उपलब्ध है.

वहीं यदि बात की जाए एसीसी सीमेंट, अल्ट्राटेक सीमेंट की तो इसके मूल्यों में भी कमी आई है. जो सीमेंट ₹450 में बेचा जा रहा था, अब वह ₹440 में बाजारों में उपलब्ध है 

आप सीधे-सीधे ₹10 की बचत प्रति बोरी के ऊपर कर सकते हैं. यदि आप सीमेंट को इस समयावधि में खरीदते हैं, तो आप प्रति बोरी के ऊपर में ₹10 से लेकर के ₹20 तक की बचत चुटकियों में कर सकते हैं.

इस प्रकार से आप इस का अनुमान लगा सकते हैं कि आप कितने रुपयों की बचत कर सकते हैं.

पैसे बचाने के अन्य उपाय

इसके साथ ही यदि आप अपने आवश्यकताओं और अपनी सूझबूझ के साथ कुछ टिप्स और ट्रिक्स प्रयोग में लाते हैं, तो आप घर बनाते समय हजारों रुपयों की बचत कर सकते हैं.

यदि आप शीशम और सागवान जैसी महंगी लकड़ियों के स्थान पर सस्ते लकड़ियों को प्रयोग में लाते हैं, तो इससे आप पैसों की बचत कर सकते हैं. कंक्रीट के बने चौखट को प्राथमिकता यदि दी जाती है, तो इससे भी पैसों की बचत होती है.

इसके साथ यदि आप कंक्रीट के बने ईट प्रयोग में लाते हैं, तो इससे आपके पैसों में तो बचत होगी ही होगी और प्लास्टर करने की एक प्रक्रिया आप स्केप कर सकते हैं. जिससे कि आप ना केवल रेत सीमेंट की बचत करेंगे अपितु मजदूरों को देने वाली मजदूरी भी बचा सकते हैं.

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आप सभी लोगों के समक्ष सरिया और सीमेंट के नए मूल्य दरों के बारे में सारी आवश्यक जानकारियां उल्लेखित कि हैं. हमें आशा है कि हमारे द्वारा उपलब्ध कराई गई ये सभी जानकारी आपको बहुत ही ज्यादा पसंद आई होगी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top