Sukanya Samriddhi Yojana: सुकन्या में पैसा लगाने वालों के ल‍िए खुशखबरी

आज के हमारे आर्टिकल में सुकन्या समृद्धि योजना के तहत जितने भी लोग निवेश करते हैं उन लोगों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी है एवं साथ ही साथ इसके बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा करेंगे. 

सुकन्या समृद्धि योजना हमारे देश में चलाई गई एक बहुत ही ज्यादा लाभकारी योजना है जिसका मुख्य उद्देश्य बेटियों को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने में योगदान प्रदान करना है. 

आपको बता दें कि या बेटियों के वास्ते प्रारंभ की गई एक सरकारी स्कीम है जिसमें पैसे जमा करने पर 7.6% के हिसाब से रिटर्न प्रदान किए जाते हैं.

यदि आपके घर में नन्हीं बेटी का जन्म हुआ है और बेटी का भविष्य के लिए चिंतित होते ही हैं जैसे पढ़ाई लिखाई, शादी तथा अन्य चीजों के लिए आपको अब चिंता करने की जरूरत नहीं है.  

आप इस योजना को एक छोटी बचत योजना भी बोल सकते हैं जो भविष्य में बेटियों में होने वाले खर्चे की पूर्ति करेंगी. 

जिस प्रकार मोदी सरकार ने अभियान चलाया था बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ उसी के अंतर्गत यह योजना की शुरुआत की गई है. 

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत 10 वर्ष से कम आयु की बेटियों के नाम से माता पिता के द्वारा खाता खुलवाया जा सकता है. 

इस योजना के तहत आप 250 रुपए से लेकर 1.50 लाख रुपए तक जमा कर सकते हैं, यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप अपने बेटी के लिए हर महीने कितना पैसा जमा करते हैं. 

यदि आप चाहते हैं इस योजना से जुड़ी पूरी जानकारी हासिल करना तो अंत तक हमारे इस लेख के साथ जुड़े रहे. 

आरबीआई ने रेपो रेट में फ‍िर क‍िया इजाफा 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने छोटी बचत योजनाओं में निवेश करने वालों के लिए खुशखबरी दी है. 

यदि आप भी भव‍िष्‍य को ध्‍यान में रखकर सुकन्या समृद्धि योजना, पीपीएफ, राष्ट्रीय बचत पत्र या क‍िसान व‍िकास पत्र में न‍िवेश करते हैं तो यह खबर आपके लिए है. 

सूत्रों से म‍िली जानकारी के अनुसार इस बार द‍िसंबर के अंत में व‍ित्‍त मंत्रालय की तरफ से छोटी बचत योजनाओं पर म‍िलने वाले ब्‍याज की दर को बढ़ाया जाएगा. 

सरकार की तरफ से ब्‍याज दर बढ़ने के बाद छोटी बचत योजनाओं में न‍िवेश करने वालों को इसका सबसे ज्‍यादा फायदा होगा. सरकार की तरफ से नई ब्‍याज दर को 1 जनवरी को लागू क‍िया जाएगा. 

आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि महंगाई पर काबू करने के ल‍िए आरबीआई की तरफ से एक बार फ‍िर से रेपो रेट में इजाफा क‍िया गया है. 

इस बार केंद्रीय बैंक की तरफ से रेपो रेट में क‍िए गए 35 बेस‍िस प्‍वाइंट के इजाफे के साथ यह बढ़कर 6.25 प्रत‍िशत पर पहुंच गया है.

न्‍यूनतम और अधिकतम जमा की राशि

यदि आपका भी अकाउंट सुकन्‍या समृद्धि योजना में है तो आप शुरू में 1000 रुपए और उसके बाद 100 रुपए के गुणकों में पैसे जमा करवा सकते हैं. 

एक फाइनेंशियल ईयर में खाते में अधिकतम 1.5 लाख रुपए जमा कराए जा सकते हैं. खाता खोलने की तारीख से 14 साल बाद तक आप पैसे जमा करवा सकते हैं. 

फाइनेंशियल ईयर में एक बार न्‍यूनतम 1000 रुपए जमा कराना जरूरी है. अगर आप न्‍यूनतम राशि जमा नहीं करवाते हैं तो आपको 50 रुपए की पेनाल्‍टी देनी होगी.

हर तीन महीने में होती है बचत योजना की समीक्षा 

केंद्र सरकार की तरफ से छोटी बचत योजना पर म‍िलने वाले ब्‍याज की समीक्षा हर 3 महीने में होती है. इसी के आधार पर ब्‍याज दर बढ़ाने या घटोने का न‍िर्णय ल‍िया जाता है. 

व‍ित्‍त मंत्रालय की तरफ से जानकारी दी गई थी क‍ि अक्टूबर-दिसंबर के लिए वर‍िष्‍ठ नागर‍िक बचत योजना पर 7.6 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा. 

क‍िसान व‍िकास पत्र पर भी 10 बेस‍िस प्‍वाइंट के ब्‍याज का इजाफा क‍िया गया था. वहीं अगर बात की जाए पीपीएफ की तो 7.1 फ़ीसदी वार्ष‍िक ब्‍याज म‍िलता है. 

वहीं, सुकन्‍या समृद्ध‍ि योजना में न‍िवेश करने वालों को 7.6 फ़ीसदी की दर से ब्‍याज म‍िलता है. 

यह क‍िसी छोटी बचत योजनाओं में म‍िलने वाला सबसे ज्‍यादा ब्‍याज है. वही नेशनल सेविंग्स रेकरिंग डिपॉटिज अकाउंट पर 5.8 फ़ीसदी का ब्‍याज म‍िलता है.

सुकन्या समृद्धि योजना का पूरा विवरण 

इस योजना का लाभ केवल बालिकाओं के लिए है जिसकी अधिकतम प्रवेश आयु 10 वर्ष है. न्यूनतम निवेश राशि ₹250 है एवं अधिकतम राशि 1.5 लाख रुपए हैं. 

इस योजना के तहत कुल 14 वर्षों तक राशि जमा करनी होती है जिसकी परिपक्वता अवधि 21 साल है. वर्तमान में इसकी बयाज दर 7.6 फीसदी है. 

यदि आप पैसा हर महीने जमा करते हैं तो प्रत्येक माह की 1 तारीख और यदि सालाना जमा करते हैं तो प्रतिवर्ष 1 अप्रैल को जमा करनी होगी. बालिका के उच्च शिक्षा पढ़ाई के लिए 50% राशि निकालने का अनुमति है.

इस योजना के तहत आप खाता दूसरी जगह भी ट्रांसफर करवा सकते हैं. इस योजना का लाभ गोद लिए हुए बालिका को भी मिलता है.

किस प्रकार से प्राप्त किए जा सकते हैं 1500000 रुपए का लाभ

इस योजना के अंतर्गत हर महीने ₹3000 जमा किया जाए तो सालाना ₹36000 जमा कर दिए जाएंगे. 

वही 14 साल के पश्चात 7.6% के कंपाउंडिंग इंट्रेस्ट के हिसाब से यदि देखा जाए तो यह ₹9,11,574 हो जाते हैं. 

जब बेटे की उम्र 21 साल की हो जाती है तब यह रकम मेच्योरिटी पर लगभग ₹15,22,221 हो जाएगी. यदि आप ₹416 बचाते हैं, तो लगभग ₹6500000 तक का फंड आपको मिलेगा.

सुकन्या समृद्धि खाता कैसे खोलें 

जैसे कि आपको बताया गया कि सुकन्या समृद्धि योजना सिर्फ और सिर्फ बेटियों के लिए है तो आप चाहे तो अपनी बेटी का खाता खुलवा सकते हैं. 

सुकन्या समृद्धि स्कीम का अकाउंट आप नजदीकी पोस्ट ऑफिस या किसी भी बैंक में जाकर खुलवा सकते हैं. 

इस योजना के तहत केवल 10 वर्ष से कम आयु के बेटियों का खाता खुल सकता है, जिसमें दस्तावेज के तौर पर सिर्फ जन्म प्रमाण पत्र जमा करना होगा और इसके साथ बच्चे का माता-पिता का पहचान पत्र जमा करना होगा.

Leave a Comment

Join Telegram