Pension Scheme: हर महीने ₹5000 तक का फायदा, इस स्कीम से लोगों की बल्ले-बल्ले

यदि आप भी किसी पेंशन योजना में निवेश करने के विषय में सोच रहे हैं, तो फिर इस संदर्भ में अटल पेंशन योजना आपके लिए सर्वोत्तम सिद्ध हो सकती है. हम यह बात इस प्रकार से क्यों कह रहे हैं? 

इस बात का पता लगाने के लिए आवश्यक है कि आप हमारे इस पोस्ट को आखिर तक पढ़े. क्योंकि हमने इस पोस्ट में अटल पेंशन योजना से संबंधित प्रत्येक जानकारी विस्तारपूर्वक लिखी हैं.

Atal Pension Yojana से संबंधित जरूरी बातें

भारत सरकार के द्वारा इस योजना की शुरूआत की गई है, तथा यह योजना जो कि सर्वोत्तम योजना की गिनती में आता है. अटल पेंशन योजना लोगों को स्वयं की रिटायरमेंट के लिए बचत करने के लिए प्रोत्साहन प्रदान करता है.

यह योजना पूर्ण रूप से PFRDA के द्वारा नियंत्रित की जाती है. अटल पेंशन योजना में निवेश करने वाले लोगों को रिटर्न्स काफी ज्यादा बेहतर ब्याज दर के साथ प्राप्त होते हैं.

अटल पेंशन योजना के जरिए निवेश कर्ता हर महीने ₹5000 तक का पेंशन प्राप्त कर सकता है. इस योजना की एक खास बात तो यह है कि यह टैक्स बेनेफिट्स भी अपने निवेश कर्ता को प्रदान करता है.

इस योजना की घोषणा कब हुई?

सरकार की तरफ से प्रत्येक तबके के लाभ के लिए विभिन्न विभिन्न स्तर पर विभिन्न विभिन्न योजनाएं प्रारंभ की जाती है. इन योजनाओं में सरकार के द्वारा लाई गई ढेरों पेंशन योजनाएं भी सम्मिलित की जाती है.

असंगठित क्षेत्रों में कार्यरत व्यक्तियों की सहायता प्रदान करने हेतु 2015-2016 के बजट में भारतीय सरकार के माध्यम से अटल पेंशन योजना की घोषणा कर दी गई थी.

अटल पेंशन योजना एक पेंशन स्कीम है, जो कि असंगठित क्षेत्रों में रहने वाले कामकाजी गरीब लोगों के रिटायरमेंट को सिक्योर करने का कार्य करती है. इस योजना में निवेश करने वाले लोगों को रिटायरमेंट के पश्चात एक स्थिर आय की सहायता प्राप्त होती है.

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत हर महीने ₹5000 तक की पेंशन का भुगतान आसानी से किया जा सकता है. वहीं इस योजना में टैक्स बेनेफिट्स प्रदान कर दिए जाते हैं.

पर कई पेंशन योजनाए जैसे की वृद्धा पेंशन योजना में टैक्स बेनिफिट्स प्रदान नहीं किये जाते हैं, लेकिन इस योजना में रजिस्ट्रेशन करने वाले लोगों को हर महीने ₹45000 सरकार प्रदान करती है.

इस योजना में कोई रिस्क नहीं

भारत सरकार के द्वारा इस योजना में सह-योगदान किया जाता है, तथा इस योजना के अंतर्गत किसी भी प्रकार से कोई भी जोखिम नहीं होता है. अटल पेंशन योजना लोगों को स्वयं के रिटायरमेंट के पश्चात बचत करने के लिए प्रोत्साहन प्रदान करती है.

इस योजना का संपूर्ण संचालन पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी Pension Fund Regulatory and Development Authority (PFRDA) के माध्यम से किया जाता है.

अटल पेंशन योजना रिटायरमेंट के लिए बचत करने की एक स्वैच्छिक योजना है, जो कि लोगों को बेहतर ब्याज दर के साथ पेंशन प्रदान करने हेतु सक्षम है.

असंगठित क्षेत्रों के लिए लाभकारी

वहीं यदि इस योजना के मुख्य रूप से लक्षित को देखा जाए तो यह देश में असंगठित क्षेत्र के लिए लक्षित है.

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्ति के लिए कुछ योग्यताएं भी होनी बहुत ही ज्यादा आवश्यक है. इसके लिए पात्रता हमने नीचे में उल्लेखित की है. 

अटल पेंशन योजना वृद्धा अवस्था को सिक्योर करने हेतु सरकार के द्वारा लाई गई एक पेंशन योजना है. जिसके अंतर्गत आने वाले सभी लाभार्थियों को बेहतर मुनाफा प्राप्त होता है.

अटल पेंशन योजना के लिए पात्रता

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत निवेश करने की सोच रहे हैं, तो फिर इस कार्य हेतु आपको बिल्कुल भी विलंब नहीं करना चाहिए. इसके साथ ही साथ आपको पात्रता के विषय में भी जानकारी होनी बेहद ज्यादा आवश्यक है.

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत कौन-कौन सी पात्रता निर्धारित की गई है, इसका उल्लेख हमें नीचे में विस्तार पूर्वक बताया है-

अटल पेंशन योजना के अंतर्गत निवेश करने के लिए बेहद आवश्यक है, कि निवेश कर्ता के पास भारतीय मूल नागरिकता हो अर्थात भारत में रहने वाले मूल नागरिक ही इस योजना के लिए पात्र माने जाएंगे. 

उम्र सीमा का भी निर्धारण किया गया है, इस वजह से केवल 18 साल से लेकर के 40 वर्ष के मध्य तक के लोग ही इस योजना के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

इस योजना के तहत जब भी आप अप्लाई करें तो आपको स्वयं का एक्टिव नंबर देना होगा. ऐसा नहीं कि आप बंद या फिर बहुत ज्यादा पुराना नंबर इस योजना के तहत दे दे.

इस योजना के अंतर्गत आपको स्वयं का आधार नंबर से जुड़ा एक वैध बैंक अकाउंट नंबर भी प्रदान करना पड़ेगा. जिससे कि आपको भविष्य में पेंशन की प्राप्ति हो सकेगी. आपको अपनी ‘Know Your Customer’डिटेल्स को यहां पर जमा करना पड़ेगा.

इन सबके अतिरिक्त एक बेहद आवश्यक बात का आपको खास ख्याल भी रखना है, कि आपका मौजूदा अटल पेंशन योजना के अंतर्गत कोई खाता नहीं हो.

अटल पेंशन योजना के होने वाले फायदे

अटल पेंशन योजना पेंशन प्रदान करता है, इस बात का पता तो सभी को हैं. किन्तु यह पेंशन स्कीम इसके आगे और भी कुछ सुविधाएं प्रदान करती है. जो कुछ इस प्रकार से है-

भारत सरकार रिटायरमेंट के पश्चात व्यक्तियों को भुगतान करने वाली न्यूनतम पेंशन की गारंटी प्रदान करती है.

धारा 80CCD के अंतर्गत व्यक्ति के द्वारा इस योजना के लिए किए गए योगदान के लिए अटल पेंशन योजना टैक्स बेनिफिट्स के लिए पात्र माने जाते हैं.

सभी बैंक खाताधारकों को इस योजना में सम्मिलित होने के लिए योग्य माना जाता है. 60 वर्ष की आयु तक पहुंचते-पहुंचते व्यक्ति को पेंशन प्राप्त होना प्रारंभ हो जाता है.

निजी क्षेत्र में कार्यरत कर्मचारी जिन्होंने कोई पेंशन लाभ प्राप्त नहीं किया है. उन्हें भी अटल पेंशन योजना के अंतर्गत आवेदन करने की अनुमति प्रदान की गई है.

आपके पास 60 साल की आयु तक पेंशन के लिए ₹1000, ₹2000, ₹3000, ₹4000 या ₹5000 निश्चित पेंशन प्राप्त करने का विकल्प भी होता है. 

योजना के अंतर्गत आपके निधन के मसले में आपका जीवनसाथी या तो योगदान का क्लेम कर सकता है, इसके अतिरिक्त योजना का टेन्योर पूरा कर सकता है.

निष्कर्ष

आज के इस पोस्ट में हमने आप सभी लोगों के समक्ष अटल पेंशन योजना से संबंधित सारी आवश्यक जानकारियां उपलब्ध करवाई है. हमें आशा है कि हमारे द्वारा प्रदान की गई यह सभी जानकारियां आप को लाभान्वित करेगी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top