E-SHRAM Card Online Apply: मजदूरों को मिल रहा है 2 लाख रुपया जाने कैसे

ई श्रम पोर्टल पंजीकरण सीएससी लॉगिन https eshram.gov.in पर स्वयं पंजीकरण ऑनलाइन

e-shram card: नमस्कार दोस्तों, जैसे कि आप सभी को पता है हमारे देश में पिछले साल 2021 में श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा इ-श्रम कार्ड का योजना चालू किया गया था, और इस योजना के तहत देश के सभी मजदूरों को हर महीने ₹500 की किस्त हर महीने मजदूरों के खाते में ट्रांसफर किया जाता है. तो आइए हम आपको इस योजना के बारे में कुछ डिटेल में बताते हैं. अगर आप भी अभी तक इ-श्रम कार्ड के लिए आवेदन नहीं किए हैं तो जल्द से जल्द आवेदन करके अपना इ-श्रम कार्ड बनवा लें, क्योंकि अब सरकार किस्त के अलावा बहुत सारे लाभ मजदूरों को देने जा रही है जो कि हम अपने इस पोस्ट में पूरी करने की कोशिश करेंगे.अगर आप ई-श्रम कार्ड योजना से जुड़े हैं तो फिर यह खबर आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं है।

जैसे की आप सभी को पता है हमारे देश में जबसे कोरोना महामारी आया है तब से कई लाखों लोगों को अपनी नौकरी खोनी पड़ी है, जिसके वजह से वह अपने घर को सही ढंग से नहीं चला पा रहे हैं तो ऐसे समय पर यह योजना उन लोगों के लिए बहुत लाभदायक है. सरकार ₹1000 किस्त के अलावा कई सारे लाभ प्रदान कर रही है.आपके पास ई-श्रम कार्ड है, तो आपको पीएम सुरक्षा बीमा योजना के तहत आपको 2 लाख रुपये तक का बीमा कवर मिलता है। अगर किसी हादसे में कामगार की मौत हो जाती है, तो उसके परिवार को 2 लाख रुपये मिलते हैं। वहीं, अगर व्यक्ति के विकलांगता होने पर 1 लाख रुपये की राशि मिलती है।

e-Shram Card की गलतियों को सुधरे

e-shram card: यदि आपने श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने की समय किसी भी प्रकार की गलत जानकारी दी है तो आपका ई श्रम कार्ड रद्द हो सकता है| श्रम कार्ड बनवाते समय होने वाली कुछ गलतियां जैसे आपने आईएफएससी कोड गलत भरा हो या सालाना आय ज्यादा भर दिया होगा तो आपकी श्रम भत्ता रद्द हो सकती है. इसीलिए आप ekyc करने के दौरान आपने जितनी भी गलती की हो उन सभी को सुधार कर ले| यदि आप इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आवेदन करने के समय सभी जानकारियों को ध्यान पूर्वक भरे किसी भी प्रकार की गलती ना करें अन्यथा सरकार के द्वारा दी जाने वाली लाभों से आप वंचित रह जाएंगे.

क्या राज्य सरकारे देंगे लाभ

e-shram card: इस योजना का शुभारंभ केंद्र सरकार द्वारा किया गया है. परंतु इस योजना को केंद्र सरकार सभी राज्यों में लागू करेगी जिसे केंद्र तथा राज्य सरकार दोनों की सहमति से मिलकर चलाई जाएगी. दशा क्या आपने देखा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले सरकार ने राज्य के श्रमिकों को श्रम योजना की पहली किस्त करोड़ों श्रमिकों के खातों में एक-एक हजार रुपए दिए. उसी के साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चुनाव से पहले यह वादा किया था. कि श्रमिकों को दूसरी किस्त के ₹1000 देंगे.

श्रम कार्ड धारकों भरण पोषण भत्ता के हर महीने ₹500 दिया जाता है जिसे 2 महीनों का मिलाकर सरकार किस्तों में ₹1000 श्रमिकों के खाते में डायरेक्ट ट्रांसफर करता है| उम्मीद है कि सरकार इस योजना को उत्तर प्रदेश के बाद बिहार राज्य में भी जल्दी लागू करेगी| यह योजना पूरे भारत देश में असंगठित क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले 38 करोड़ मजदूरों को रोजगार के अवसर तथा कई लाभकारी तथा कल्याणकारी योजनाएं निकालती रहेगी.

श्रमिक कार्ड का पैसा कैसे चेक करें ? 

e-shram card: आपके द्वारा दी जाने वाली दूसरी किस्त का पैसा चेक करने के कई तरीके हैं, जिस्म पहला तरीका है कि आप अपनी बैंक के द्वारा टोल फ्री नंबर पर कॉल करके अपने बैंक में जमा धनराशि की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं तथा वह मोबाइल नंबर जो आपके बैंक तथा आधार कार्ड से लिंक हो उस पर आपको मैसेज के द्वारा भी जानकारी भेजी जा सकती है| एक और तरीके से आप अपनी श्रम कार्ड का पैसा चेक कर दे सकते हैं जैसे Phone pay,Google pay तथा paytm की वॉलेट में भी आप अपना पैसा चेक कर सकते हैं परंतु आपकी यह सुविधाएं बैंक से जुड़ी होनी चाहिए.

E Shram Card second Installment Details

महत्वपूर्ण पोस्ट पढ़ें:-

इ-श्रम कार्ड के लिस्ट में अपना नाम कैसे चेक करें 

e-shram card: यदि आप उत्तर प्रदेश के नागरिक है तो था आपने भरण पोषण भत्ता के लिए श्रम पोर्टल पर आवेदन की थी तो लिस्ट में अपना नाम देखने के लिए आपको आधारिक वेबसाइट upbocw.in पर जाना होगा| साइट को ओपन करने के बाद आपको श्रमिकों की एक सूची दिखाई देगी जिसमें आपको जनपदवार तथा ब्लॉकवार के विकल्प मैं से किसी एक को चुनना है| उसके बाद शहरी क्षेत्र के नगर निकाय और ग्रामीण क्षेत्र के विकास खंड में से किसी एक को चुनें और मांगी गई सभी जानकारी को भरें| आपके द्वारा भरी गई जानकारी सही होने पर आपके सामने लिस्ट खुलकर आ जाएगी.

E Shram Card Highlights

योजना का नामश्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार द्वारा 
सक्रिय राज्य उत्तर प्रदेश 
वर्ष    2021
योजना की घोषणा करता  उत्तर प्रदेश के माननीय रोजगार मंत्री श्री भूपेंद्र यादव 
लेख का विषय असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले मजदूरों को लाभ पहुंचाना 
आवेदन शुल्क कोई शुल्क नहीं आवेदन निशुल्क है 
ऑफिसियल वेबसाइट     Click Here
टोल फ्री नंबर 14434

इ-श्रम कार्ड धारकों को क्या-क्या लाभ दिया जाता है 

इ-श्रम कार्ड धारकों को केंद्र सरकार की ओर से कई प्रकार के लाभ दिए जाएंगे परंतु आज हम बात करेंगे उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने श्रमिकों को क्या-क्या लाभ देने की वादा की है तथा इसके उद्देश्य के बारे में भी हम जानेंगे उदाहरण के तौर पर:- 

  • उत्तर प्रदेश में श्रमिकों को भरण पोषण भत्ता योजना के आधार पर ₹1000 श्रमिकों के खातों में दिए जाते हैं| 
  • भरण-पोषण भत्ता के अंतर्गत श्रमिकों को ₹500 प्रति महीने दिया जाता है जिसे दो किस्तों में सरकार 1000 रुपए श्रमिकों के डायरेक्ट खातों में भेजते हैं| 
  • श्रम कार्ड धारकों को बीमा राशि दी जाती है यदि किसी श्रमिक का किसी दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को सरकार की ओर से 200000 रुपए तक की आर्थिक मदद दी जाती है तथा यदि श्रमिक का दुर्घटना में केवल विकलांग होता है तो उसे 1 लाख रुपए दिया जाएगा| 
  • यदि किसी श्रमिक का उम्र 60 वर्ष से अधिक हो जाती है तो उसे सरकार की ओर से 3000 रुपए की पेंशन दी जाएगी| 
  • श्रमिकों को इलाज के लिए आर्थिक मदद दी जाएगी | 
  • इ श्रम कार्ड धारको को रहने के लिए आवास की सुविधा प्रदान की जाएगी| 
  • श्रमिकों के बच्चों के लिए छात्रवृत्ति दी जाएगी जिससे वह अपने शिक्षा सुचारू रूप से पूरी कर सके| 
  • श्रम कार्ड से श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराया जाएगा| 
  • श्रमिकों को बेटी की शादी के लिए आर्थिक मदद दी जाएगी| 
  • यदि आपने अपना आधार कार्ड तथा मोबाइल नंबर अपने बैंक खाते से लिंक नहीं कराई है तो आपको लाभ नहीं मिल सकता है| 

श्रमिक कार्ड का लाभ लेने के लिए योग्यता 

  • श्रमिक भारत देश की मूलनिवासी होनी चाहिए| 
  • यदि श्रमिक उत्तर प्रदेश का मूल निवासी है तथा व असंगठित क्षेत्र के अंतर्गत आता है तो उसे लाभ जरूर दिया जाएगा| 
  • श्रम कार्ड का लाभ लेने के लिए श्रमिक की उम्र 16 वर्ष से लेकर 59 वर्ष के अंतर्गत होनी चाहिए| 
  • श्रमिक के पास आधार कार्ड होनी चाहिए| 
  • श्रमिक किसी सरकारी संगठन से जुड़ा हुआ नहीं होना चाहिए| 
  • यदि कोई श्रमिक ईपीएफओ और ईएसआईसी का सदस्य है तो उसे लाभ नहीं मिलेंगे| 
  • यदि श्रमिक इनकम टेक्स भरता है तो उसे भी लाभ नहीं मिलेंगे|

श्रम कार्ड कल लाभ किस तरह के लोगों को दिए जाएंगे 

e-shram card: वैसे तो श्रम कार्ड का लाभ असंगठित क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सभी श्रमिकों को दिए जाएंगे परंतु हम उसके कुछ उदाहरण है जैसे कि छोटे तथा सीमांत किसान, खेतों में काम करने वाले मजदूर, ईट भट्ठा में काम करने वाले मजदूर, फैक्ट्रियों में काम करने वाले मजदूर, दुकानों तथा होटलों में काम करने वाले मजदूर, मछुआरे, सब्जी तथा फल बेचने वाले, ऑटो तथा रिक्शा चलाने वाले, प्रवासी मजदूर तथा घरों में काम करने वाले मजदूर आदि| इस योजना के तहत सरकार बीते कुछ वर्षों में हमारे देश में खासकर मजदूरों का हालात काफी खराब रहा है मजदूरों को अपने काम छोड़कर पलायन करना पड़ा था जिससे उनका रोजगार तो चला ही गया था उन्हें भुखमरी जैसे समस्याओं से भी जूझना पड़ा था| इस योजना के तहत सरकार मजदूरों को उनके क्षेत्र में साल के 12 महीने रोजगार दिलाने की कोशिश करेगी.

Who benefited

FAQs of e-Shram Card Yojana

श्रमिक कार्ड में कितने पैसे आ रहे हैं?

श्रम कार्ड धारकों को हर महीने ₹500 उनके खातों में दिए जाते हैं जिसे सरकार किस्तों में करके ₹1000 देती हैं.

श्रमिक कार्ड की दूसरी किस्त कब तक आएगी?

श्रमिक कार्ड की दूसरी किस्त उम्मीद है कि अप्रैल के खत्म होते होते श्रमिकों के खातों में आ जाएगी.

असंगठित क्षेत्र क्या है?

ऐसा क्षेत्र जो सरकार के साथ पंजीकृत नहीं होता है तथा जिसके रोजगार की शर्तें तय नहीं होते हैं उसे असंगठित क्षेत्र कहते हैं.

कुछ लाभदायक पोस्ट पढ़ें:-

निष्कर्ष

इ-श्रम कार्ड तथा उसकी दूसरी किस्त की पूरी जानकारी हमने इस लेख में आपको दी है, यदि आपको किसी प्रकार की संदेह है तो उसे आप कमेंट के माध्यम से हमें पूछ सकते हैं| यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो आप अपने दोस्तों तथा जानकारों के साथ जरूर शेयर करें धन्यवाद! 

Official WebsiteClick Here
CGWAS HomeClick Here

Leave a Comment