E Shram Card Se Ayushman Card Kaise Banaye: श्रम कार्ड धारक ऐसे बनाये अपना आयुष्मान कार्ड, देखिए यहां पूरी डिटेल

E Shram Card Se Ayushman Card Kaise Banaye: नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का हमारे इस लेख में, हमारे देश में लोग अस्पतालों में जाने से पूर्व पैसों का इंतजाम करते हैं। क्योंकि किसी भी व्यक्ति के इलाज में बहुत सारे पैसों की आवश्यकता होती है। यदि ऐसे व्यक्ति विशेष के पास पैसे उपलब्ध नहीं होते हैं तो इसका असर उनके इलाज पर पड़ता है। किंतु यदि बात करें मध्यवर्गीय परिवारों तथा निम्न वर्ग के परिवारों की तो , सभी अस्पताल के मामले में बहुत ही ज्यादा संघर्ष करते हैं। क्योंकि इनके पास पहले से ही जामा कोई धनराशि नहीं होती है। जिनका प्रयोग करके अपना परिवार के किसी सदस्य का इलाज करवा सकें। 

ऐसे में आपातकाल की स्थिति उत्पन्न होती है और परिवार के किसी सदस्य को अस्पताल ले जाने की नौबत आती है तब तो परिस्थिति और भी ज्यादा विपरीत हो जाती हैं। वर्तमान में भले ही सरकार की ओर से जगह-जगह पर अस्पताल खुलवा दिए गए जहां पर इलाज के एक रुपए नहीं लिए जाते। किंतु उनमें भी व्यक्ति विशेष के इलाज के लिए भी अच्छी सुविधाएं नहीं होती है। जो किसी व्यक्ति विशेष के इलाज है के लिए आवश्यक है।

इस वजह से लोग सरकारी अस्पतालों को छोड़ प्राइवेट अस्पतालों को ज्यादा प्राथमिकता देते हैं। ऐसा नहीं है कि सरकार के द्वारा बनवाए गए सरकारी अस्पताल किसी कार्य के नहीं यह सभी अपने स्थान पर अपना मूलभूत योगदान प्रदान करती है। 

अस्पतालों के चलते होने वाला कर्ज

जैसा कि हमने आपको पहले ही बता दिया कि अस्पतालों में जाने से पूर्व लोगों को पैसों का इंतजाम करना पड़ता है। क्योंकि अस्पताल में लोगों को बहुत ही ज्यादा धन की आवश्यकता पड़ती है। ऐसे में यदि आपातकालीन परिस्थिति होती है तो इन पैसों के इंतजाम में यह बेचारे लोग कर्ज लेना उचित समझते हैं। 

एक बार कर्ज ले लेने के पश्चात लोगों का जीवन इस कर्ज के दलदल में धंसाता ही चला जाता है। लोगों के द्वारा एक बार कर्ज ले लेने के पश्चात सूदखोर उन्हें बहुत ही अधिक परेशान करते हैं। कई बार तो ऐसा देखने को भी मिलता है कि लोग कर्ज लेकर चले जाते हैं, अपने परिवार जनों का इलाज कराने तो अस्पताल में इतने पैसों से उनका काम नहीं बनता है। इस परिस्थिति में उन्हें और भी अधिक धन की आवश्यकता होती है और इस धन की पूर्ति भी वे कर्ज के द्वारा ही कर पाते हैं। हमारे देश में अस्पताल में इलाज हेतु लोगों को बहुत ही अधिक धन का प्रयोग करना पड़ता है। 

सरकार के इस क्षेत्र में कदम

क्योंकि हम पर शासन हमारे द्वारा चयनित सरकार करती है इस वजह से उसका यह कर्तव्य बनता है कि वह हमारी समस्याओं के समाधान हेतु रास्तों की खोज करें। इसी का परिणाम स्वरुप सरकार ने इन क्षेत्रों में भी अपने कदम बढ़ाए हैं। सरकार के द्वारा इन क्षेत्रों में वैसे तो बहुत से कदम बढ़ाए गए हैं। किंतु इनमें से सर्वोत्तम तथा सर्वश्रेष्ठ कदम के विषय में हम आज इस आर्टिकल में चर्चा करने वाले हैं। संभवतः आपका पाठकों में से अधिकतर इसके विषय में जानते होंगे। 

जानिए क्या है आयुष्मान कार्ड योजना

आयुष्मान कार्ड हमारे देश में प्रदान किए जाने वाले दस्तावेजों में से सबसे ज्यादा आवश्यक दस्तावेज है। हमारे देश में आयुष्मान कार्ड के सहायता से लोग अस्पतालों में होने वाले धन के बहाव को नियंत्रित कर सकते हैं। कहने का तात्पर्य यह है कि आयुष्मान योजना के तहत आने वाले सभी लाभार्थियों को सरकार की ओर से , स्वास्थ्य बीमा प्राप्त होता है। आपकी जानकारी के लिए हम इस बात से आपको अवगत करा दे इस स्वास्थ्य बीमा का प्रयोग प्रत्येक लाभार्थी कर सकता है। 

आयुष्मान कार्ड योजना के तहत आने वाले प्रत्येक नागरिक के अस्पताल में होने वाले व्यय को संस्कार प्रदान करती है। कहने का तात्पर्य यह है कि आयुष्मान कार्ड योजना के तहत सभी लाभार्थियों को ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा प्राप्त होता है। यह सभी केवल और केवल उन लोगों के लिए आयोजित किए गए हैं जो स्वयं के इलाज हेतु आर्थिक रूप से असमर्थ रहते हैं। उनके इस असमर्थता को स्वास्थ्य पर विशेष प्रभाव करने हेतु ही आयुष्मान भारत कार्ड योजना का शुभारंभ किया गया है। 

इस प्रकार से श्रम कार्ड धारक बनवाए अपना आयुष्मान कार्ड

यदि आप श्रम कार्ड धारक है और स्वयं का आयुष्मान कार्ड बनवाना चाहते हैं तो यह कार्य आप स्वयं ही ऑनलाइन माध्यम के जरिए कर सकते हैं। देश में रहने वाले प्रत्येक e श्रम कार्ड  स्वयं का आयुष्मान भारत योजना के तहत आयुष्मान कार्ड बनवाने हेतु ऑनलाइन माध्यम से स्वयं ही आवेदन कर सकते हैं। 

आयुष्मान कार्ड योजना के अंतर्गत प्रदान किए जाने वाले लाभ

इस योजना के तहत आने वाले लाभार्थियों को प्रत्येक साल इस योजना के अंतर्गत आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के प्रत्येक परिवार को स्वास्थ्य बीमा के तौर पर ₹500000 तक का बीमा प्रदान किया जाता है। इस योजना के तहत प्रदान किया जाने वाले बीमा इंश्योरेंस में किसी भी परिवार के सदस्य के वास्ते उम्र सीमा का निर्धारण नहीं किया गया है। 

योजना के तहत जुड़ने वाले लाभार्थी को पहले से ही कोई बीमारी है अथवा थी तो वह भी इसके अंदर रिकवर कर लिया जाएगा। कोई भी व्यक्ति किसी भी हॉस्पिटल फिर चाहे सरकारी हो या फिर प्राइवेट हो जाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। मरीज के अस्पताल में भर्ती हो जाने के पहले तथा भर्ती के बाद का जितना भी खर्च निकल कर आता है उसका भुगतान सरकार करती है। 

इस प्रकार आवेदन करें

  • यदि आप इस योजना में जोड़ने हेतु ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको सर्वप्रथम उसके official वेबसाइट जाना पड़ेगा। 
  • जैसे यार उसका official वेबसाइट में विजिट करेंगे आपको How To Get Ayushman Card का ऑप्शन सेलेक्ट कर लेना है और वहां पर आपको स्वयं को रजिस्ट्री ऑप्शन मिल जाएगा। 
  • इसके पश्चात आप रजिस्टर पर क्लिक कर सकते हैं। जैसी आप इसको क्लिक करेंगे आपके समक्ष रजिस्ट्रेशन का पेज ओपन हो जाएगा।।
  • यहां पर आपको अपना रजिस्ट्रेशन नंबर तथा पासवर्ड मिल जाएगा। 
  • इसके पश्चात आपको अपना आयुष्मान कार्ड ऑनलाइन माध्यम से प्रदान कर दिया जाएगा। 
e shram card se ayushman card kaise banaye

निष्कर्ष:-

इस आर्टिकल के माध्यायम से हमने आपको आयुष्मान कार्ड से संबंधित कुछ जानकारियां प्रदान की है। हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा बताई गई सभी जानकारी आपको बेहद पसंद आई होगी। यदि आप हमसे कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं अथवा  कोई सुझाव देना चाहते हैं तो यह कार्यक्रम के जरिए कर सकते हैं,धन्यवाद। 

महत्वपूर्ण पोस्ट पढ़ें:-

Important Links

Official websiteClick Here
CGWAS HomeClick Here
Join Telegram ChannelClick Here

Leave a Comment