New Traffic Rules 2022: सड़क सुरक्षा नियम हुआ लागू, यहां देखें कैसे बचे चालान होने से

इस आर्टिकल में हम आप सभी के साथ नई ट्रैफिक रूल्स के बारे में आवश्यक जानकारियां साझा करने वाले हैं। 

हमारे देश में ट्रैफिक से जुड़ी कुछ आवश्यक बातें

जैसा कि इस बारे में सभी जानते हैं, कि हमारे देश में वाहनों की भरमार है। इस वजह से बड़े बड़े शहरों तथा महानगरों में अक्सर ट्रेफिक जाम लगा करते हैं। इसके साथ ही जहां पर अधिक वाहन होंगे वहां पर जाहिर सी बात है दुर्घटनाएं भी होंगी। ऐसे में इन दुर्घटनाओं को रोकने हेतु सरकार के द्वारा कुछ नियम कानून बनाए जाते हैं। इन्हें ट्रैफिक रूल्स कहा जाता है। हमारे देश भारत में दिन प्रतिदिन ट्रैफिक के नियमों को परिवर्तित किया जाता रहता है। जिससे कि हो रहे दुर्घटनाओं पर नियंत्रण साधा जा सके, क्योंकि दुर्घटना होने से न केवल वाहनों को क्षति पहुंचती है।

अपितु व्यक्ति विशेष की मृत्यु तक हो सकती है। आपको बता दें कि ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर के माध्यम से 1 सितंबर 2022 से मोटर व्हीकल एक्ट को प्रारंभ किया जा चुका है, एवं राज्य सरकार के माध्यम से देश में फिर से एक बार पुनः ट्रैफिक नियमों के चालान को बढ़ाया जा चुका है। जैसा कि हमने बताया कि वाहन दुर्घटना में व्यक्ति विशेष की मृत्यु तक हो जाती है। तो इसका मुख्य कारण है  , कि लोगों के द्वारा ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं किया जाता है। 

नए ट्रैफिक नियमों को होल्ड पर रखने वाले राज्य ट्रैफिक पुलिस चालान लिस्ट 2022

सड़क पर हो रहे दुर्घटनाओं के रोकथाम हेतु सरकार ने एक नए ट्रैफिक रूल एवं नियमों को सरकार के माध्यम से 1 सितंबर 2019 में मंजूरी प्रदान कर दी थी। अब हर वाहन चलाते समय प्रत्येक लोगों के द्वारा एक नियम का पालन किया जाएगा वरना कई गुना तक जुर्माना भरना पड़ सकता है। लागू किए गए इस नए ट्रैफिक नियम के अंतर्गत मानक से कम इंजन की गाड़ी बनाने पर कंपनी पर 550 करोड का जुर्माना लगाया जाएगा।

जैसे (धारा-177) तथा नहीं (धारा-177) के अंतर्गत ट्रैफिक तोड़ने पर पहले ₹1000 का जुर्माना किया जाता था। किंतु अब ऐसा करने पर इसका बड़ा जुर्माना देना पड़ेगा अर्थात ₹5000 का जुर्माना प्रदान करना पड़ेगा। इसके साथ ही नए कानून के अंतर्गत ड्राइविंग लाइसेंस का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति पर ₹100000 तक का जुर्माना लगाया जा सकता है, एवं इसके साथ ही नागरिक का ड्राइविंग लाइसेंस भी निलंबित किया जा सकता है। 

नए ट्रैफिक रूल 2022 का उद्देश्य

हमारे देश में ऐसे बहुत से लोग भरे पड़े हैं। जो कि ट्रैफिक नियमों का पालन करते ही नहीं है, एवं ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने में विभिन्न प्रकार से सड़क दुर्घटनाओं के जिम्मेदार बनते हैं। इन परेशानियों को दूर करने के वास्ते केंद्र सरकार के माध्यम से New Traffic Rules 2020 को लागू किया जा चुका है। 

इन नियमों के तहत जो भी इन ट्रैफिक नियमों को तोड़ेगा एवं दुर्घटना करने की संभावनाओं में वृद्धि करेगा तो उन्हें जुर्माना देना होगा। नए ट्रैफिक रूल के माध्यम से सभी व्यक्ति सड़क नियमों का पालन करेंगे सरकार के माध्यम से जुर्माना के साथ-साथ सजा का भी प्रावधान रखा गया है। नए ट्रैफिक नियमों के माध्यम से सड़क पर होने वाली दुर्घटनाओं में भी काफी सुधार आ जाएगा। 

ड्राइविंग से संबंधित दस्तावेजों की सॉफ्ट कॉपी है आवश्यक

सरकार के माध्यम से बनाए गए ट्रैफिक नियमों के तहत देश के प्रत्येक नागरिक को स्वयं के आवश्यक दस्तावेजों की फोटो कॉपी मोबाइल में रखना अति आवश्यक है। इस वजह से आप किसी भी नागरिक को भौतिक रूप से अपने कागज को साथ रखने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। यदि ट्रैफिक पुलिस ड्राइविंग लाइसेंस या फिर अन्य दस्तावेज मांगती है। तो वहां चालक अपने मोबाइल फोन में फोटो कॉपी दिखा करके जुर्माना देने से बच सकता है। 

सड़क सुरक्षा नियम 2022

नए ट्रैफिक नियम के ट्रैफिक का ड्राइविंग लाइसेंस नियमों का उल्लंघन करने पर नागरिकों पर ₹100000 तक का जुर्माना लगाया जाएगा। आपको हम यह बात बता दे , कि सड़क पर तेज रफ्तार से चलाने पर ₹1000 से लेकर ₹2000 तक का जुर्माना लगाया जाएगा। सड़क सुरक्षा नियम के अंतर्गत यदि कोई नाबालिक बाइक से गाड़ी चलाते हुए पकड़ा जाता है। तो उसे ₹25000 तक का जुर्माना देना होगा।

इसके साथ ही उसका ड्राइविंग लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा। नए ट्रैफिक नियम के अंतर्गत मोबाइल पर बात करते वक्त एवं ट्रैफिक जाम करने वाले को , गलत दिशा में ड्राइव करने वाले को, खतरनाक ड्राइविंग करने वालों को एवं बेवजह ऐसा वाहनों को ट्रैफिक जाम लगाने पर जुर्माना भरना पड़ेगा। 

मोटर वाहन अधिनियम में संशोधन

सरकार के माध्यम से 1989 मोटर वाहन अधिनियम में संशोधन किया गया है। संपूर्ण देश में एक अक्टूबर 2022 से लागू किया जा चुका है। सरकार के माध्यम से इस संशोधन में मुख्य प्रकार के बदलाव किए जा चुके हैं। जिसके अंतर्गत आपको बहुत दस्तावेजों को हर जगह ले कर जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। 

अब आप अपने ड्राइविंग लाइसेंस की सॉफ्ट कॉपी अपने पास में ही रख सकते हैं, एवं यह फैसला सरकार ने डिजिटलीकरण को बढ़ावा देने हेतु किया है। मोटर वाहन अधिनियम में कई और संशोधन भी किए जा चुके हैं। सर्विस प्लस पोर्टल से संबंधित सभी जानकारियां आप आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। 

दस्तावेजों की वैधता की सीमा भी जाने

भारत के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी जी ने कोरोना के चलते सभी दस्तावेजों जैसे की ड्राइविंग लाइसेंस फिटनेस परमिट सम्भंदित दस्तावेज सीमा जो कि 31 जुलाई से थी। अब उसे बढ़ा करके सितंबर 2022 तक कर दी गई है। यह सब इस वजह से हुआ है क्योंकि कोविड-19 के चलते पूरे देश में विराम लग चुका था। 

हेलमेट के बिना टू व्हीलर नहीं चला सकते हैं

इस बारे में सभी जानते हैं कि बाइक चलाने वाले लोगों को हेलमेट पहनना बहुत ही ज्यादा आवश्यक होता है इसके साथ ही बाइक पर बैठे दूसरे व्यक्ति को भी हेलमेट जरूर ही पहनना चाहिए यदि दोनों में से कोई भी व्यक्ति इस नियम का पालन नहीं करता है। तो ऐसे में उन्हें ₹1000 तक का जुर्माना देना पड़ सकता है। गंभीर मामलों में ट्रैफिक अधिनियम के लाइसेंस को 3 महीने तक के वास्ते निलंबित भी कर सकते हैं। 

निष्कर्ष:-

आज के इस आर्टिकल की सहायता से हमने आप सभी प्रिय पाठकों के साथ ट्रैफिक रूल से संबंधित बहुत ही आवश्यक जानकारियों पर चर्चा की है हम आशा करते हैं, कि हमारा यह प्रयास आपको बहुत ज्यादा पसंद आया होगा, धन्यवाद। 

Leave a Comment