PFRDA Pension Yojana: पेंशन धारकों के लिए बड़ी खुशखबरी, जाने एनपीएस के तहत क्या है नई योजना

PFRDA Pension Status: सभी पेंशन धारकों के लिए बहुत ही खुशखबरी की खबर आई है, एनपीएस के तहत हर पेंशन धारकों को मिलने वाला है गारंटी रिटर्न। भारत सरकार द्वारा सभी पेंशन व्यक्तियों के लिए एनपीएस के तहत एक बहुत बड़ी योजना  का प्लान किया जा रहा है। सरकार ने पेंशन धारकों के लिए नई योजना प्रोवाइड करने के लिए कुछ प्लानिंग कर रही है जिससे पेंशन प्राप्त करने वाले व्यक्तियों को काफी लाभ प्राप्त होगा।

हमारे देश में बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें पेंशन सरकार द्वारा दी जाती है ऐसे में उन व्यक्तियों के लिए सरकार कुछ प्लानिंग कर रही है जिससे उन्हें काफी हद तक प्रॉफिट मिल सकता है। जो नई योजना इन पेंशन धारकों के लिए सरकार द्वारा ली जा रही है उनसे हर व्यक्ति बहुत ही खुश है क्योंकि सरकार जिस योजना की प्लानिंग कर रही है उनसे उन लोगों को काफी मदद मिलेगी।

NPS assured return scheme

PFRDA Pension Status: हमारे भारत देश में लाखों लाख लोगों को पेंशन दिया जाता है, पेंशन रेगुलेटर ने, नेशनल पेंशन सिस्टम के माध्यम से नियमित अश्योर्ड रिटर्न स्कीम सभी पेंशन धारकों के लिए लाए हैं। पेंशन रेगुलेटर ने एनपीएस के माध्यम से जो स्कीम सभी पेंशन धारकों के लिए लाए हैं स्किन से हर पेंशन धारक लोगों को लाभ प्राप्त होगा, जो व्यक्ति को पेंशन मिल रहा है उन लोगों को इस योजना के माध्यम से बहुत सारे प्रॉफिट प्रदान किए जाएंगे।

ऐसे में यदि आप भी एक पेंशन धारक है तो हम आपको बता दें कि नेशनल पेंशन सिस्टम द्वारा हर हर पेंसिल से प्राप्त करने वाले व्यक्तियों के लिए एक बहुत ही अच्छी स्कीम लाई गई है जिसके तहत लोगों को लाभ दिया जाएगा, सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से जो भी लाभ पेंशन धारकों को दिया जाएगा उस से उन्हें काफी मदद मिलेगी और वह अपनी जिंदगी और भी अच्छे तरीके से जी पाएंगे।

NPS क्या होता है?

PFRDA Pension Status: एनपीएस का फुल फॉर्म नेशनल पेंशन सिस्टम होता है, यह एक योजना है जो सरकार द्वारा सभी कर्मचारियों के लिए 1 जनवरी 2004 को लागू किया गया था। इसके द्वारा भारत देश के हर राज्य द्वारा इस योजना को स्वीकृत किया गया और वह अपने अपने राज्य के कर्मचारियों के लिए इस योजना को अपने राज्यों में भी पारित किए। 2009 ईस्वी में इस योजना को निजी सेक्टर में काम कर रहे हैं सभी कर्मचारियों के लिए जारी किया गया।

जो लोग निजी सेक्टर में कर्मचारियों के रूप में काम करते हैं उनका निश्चित आयु होने के बाद उन्हें रिटायर कर दिया जाता है जब रिटायर हो चुके होते हैं तब वह कर्मचारी नेशनल पेंशन सिस्टम का एक हिस्सा आसानी पूर्वक लेने में सक्षम होते हैं। जो कर्मचारी अपने कार्य के बाद रिटायर हो जाते हैं वह एनपीएस का एक हिस्सा आराम से ले सकते हैं। इसके पश्चात बाकी जितने भी पैसे होते हैं उससे नियमित आय के लिए इनयूटो प्राप्त कर सकते हैं।

इस प्रकार एनपीएस यानी कि नेशनल पेंशन सिस्टम सभी कर्मचारियों के लिए बहुत ही फायदेमंद है इसलिए जो भी कर्मचारी रिटायर होते हैं उन्हें एनपीएस के तहत कुछ लाभ प्राप्त होता है और वैसे भी सरकार इस योजना में कुछ नई प्लानिंग कर रही है जिसके तहत पेंशन धारकों को और भी मदद किया जा सके। एनपीएस को वही व्यक्ति प्राप्त कर सकता है जिसकी आयु 18 से 70 वर्ष तक हो, जिन व्यक्तियों की आयु 18 से 70 वर्ष तक है वह एनपीएस का हिस्सा आसानी पूर्वक ले सकते हैं इनकी आयु सीमा 18 से 70 वर्ष तक ही रखी गई है।

PFRDA नियुक्त करेंगे सलाहकार

PFRDA Pension Status: अर्थात पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी के द्वारा इस स्कीम के लिए सलाहकार नियुक्त करने का डिसीजन लिया गया इसलिए पीएफआरडीए ने इस स्कीम को डिजाइन करने के लिए सलाहकार रखने का निर्णय लिए है,, उनके द्वारा सलाहकारों के लिए रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल मंगवाया गया है। इसके पहले पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी के अध्यक्ष सुप्रतिम बंधोपाध्याय द्वारा यह बताया गया था कि सलाहकारों को नियुक्त करने के लिए एक्चुरियल कर्म तथा पेंशन फंड्स से बातचीत करते हुए विचार विमर्श किया जा रहा है।

इस प्रकार सरकार ने पेंशन धारकों के लिए जो नई स्कीम लाने की सूची है उसके लिए इतनी सारी तैयारियां करनी पड़ रही है, जब स्क्रीन सफलतापूर्वक लागू हो जाएगा तो पेंशन धारकों को बहुत ही ज्यादा लाभ प्राप्त होगा जिससे मैं अपने जीवन को और भी अच्छे तरीके से जी पाएंगे और अपने बच्चों को भी अच्छी जिंदगी प्रोवाइड करा पाएंगे और इसके साथ साथ अपने बच्चों का भविष्य और भी अच्छा बना पाने में सक्षम होंगे। वैसे तो बच्चे देश के भविष्य हैं जो देश को आगे ले जाएंगे।

पीएफआरडीए कानून के माध्यम से एक न्यूनतम सुनिश्चित रिटर्न की योजना प्रारंभ करने की अनुमति दे दी गई है। इस पेंशन फंड योजनाओं के माध्यम से जो फंड मैनेज किए जा रहे हैं उसे मार्क टो मार्केट किया जाता है। इनका मूल्यांकन बाजार की स्थिति पर निर्भर करता है क्योंकि बाजार की स्थिति को देखते हुए इसका मूल्यांकन किया जाता है, इसमें काफी उतार-चढ़ाव भी देखने को मिलते हैं।

pfrda pension yojana

जाने क्या करेंगे सलाहकार?

PFRDA Pension Status: पीएफआरडीए ने सलाहकारों की नियुक्ति के लिए रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल मंगवाया था और इस योजना को तैयार करने के लिए सलाहकारों की नियुक्ति से सर्विस प्रोजेक्ट और पीएफआरडीए के मध्य संबंध नहीं बनना चाहिए। पीएफआरडीए एक्ट के निर्देश अनुसार, एनपीएस के माध्यम से सब्सक्राइब को एक ऐसी स्कीम चुन्नी होगी जो रेगुलर अश्योर्ड रिटर्न दे।

इस प्रकार की योजनाओं को रेगुलेटर के साथ रजिस्टर पेंशन फंड के माध्यम से पेश करना होता है। इस प्रकार पीएफआरडीए के द्वारा नियुक्त किए गए कलाकारों का काम पेंशन फंड द्वारा मौजूदा और संभावित सब्सक्राइबर्स के लिए अश्योर्ड रिटर्न योजना तैयार करना होगा।

कुछ महत्वपूर्ण पोस्ट पढ़ें:-

निष्कर्ष:-

सरकार के माध्यम से एनपीएस के तहत रेगुलेटरी रिटर्न योजना का प्लानिंग किया जा रहा है जिसके तहत पेंशन धारकों को काफी लाभ प्रदान किया जाएगा, इस योजनाओं के लिए पीएफआरडीए द्वारा सलाहकार नियुक्त करने की विचार-विमर्श की जा रही है। नेशनल पेंशन सिस्टम द्वारा पेंशन धारकों को आर्थिक मदद की जाएगी जिससे उन्हें काफी लाभ होगा इसलिए सरकार ने बहुत ही सोच समझ कर इस योजना के लिए नई स्कीम लाने की प्लानिंग कर रही है।

Important Links

Official WebsiteClick Here
CGWAS HomeClick Here
Join TelegramClick Here

1 thought on “PFRDA Pension Yojana: पेंशन धारकों के लिए बड़ी खुशखबरी, जाने एनपीएस के तहत क्या है नई योजना”

Leave a Comment