PM Kisan Yojana 2022: किसानों को मिली बहुत बड़ी खुशखबरी 12वीं किस्त से पहले जाने कौन से बैंक ने किया खुलासा 

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 2022: जैसा कि देश के केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया जाने वाले सारे योजनाओं में से एक योजना किसान योजना है। जिसके तहत हमारे देश के सभी किसान भाइयों को उनके कृषि कार्य को लेकर उन्हें हर तरह की सहायता प्रदान की जाती है, जिससे हमारे देश के कई किसान अब किसी कार्य की परेशानियां से बचते हैं ।

आपको बता दें कि कहा जाए तो हमारे देश के विकास के लिए किसानों का एक बहुत बड़ा अहम हिस्सा माना जाता है। किसान लोग यह सब पूरे देश का पेट भर देते हैं अनाज उपजाकर जिससे आज हम सभी खाना दैनिक जीवन में खा पाते हैं। यदि अगर सोचा कि हमारे देश में किसान नहीं होते तो कैसा होता हमारा जीवन? हमारे जीवन में भी किसानों का बहुत बड़ा योगदान रहा है जिसके लिए हम सभी उनके आभारी है उन सभी किसान भाइयों के लिए।

हिंदुस्तान के एक जाने-माने प्रसिद्ध सरकारी अधिकृत बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के तरफ से यह खबर निकल कर आ रही कि हमारे देश के संपूर्ण किसानों की आमदनी ऑफ फाइनेंसियल ईयर 2017 2018 से अब तक का फाइनेंसियल ईयर 2021 से 2022 में यह पता चल रहा है कि 1.3 से बढ़कर 1.7 गुना अधिक बढ़ चुकी है, जो कि बेहद प्रसन्नता वाली बात है। तथा यह भी अपडेट दी जा रही है कि हमारे देश में आदरणीय सभी किसान भाइयों के द्वारा उगाए गए आनाज अब पूरे वैश्विक क्षेत्रों में निर्यात भी हो रहे हैं। यह काफी गौरव की बात है।तथा इन सभी अनाजों का निर्यात अभी के समय में वृद्धि होकर 50 अरब अमेरिकी डॉलर से भी अधिक हो चुकी है।यह हमारे किसान के लिए बहुत ही अच्छी खबर प्राप्त हुई है।

हमारे किसानों को नकदी फसल में लगे आय में हुई भारी बढ़ोतरी जाने कैसे 

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 2022: जिस प्रकार से आज के दौर में हमारे देश के किसान ने अपने अनाज उपजाकर सिर्फ अपने देश भारत के नागरिक को ही नहीं बल्कि वह पूरे विश्व का भी पेट भर रहे हैं। क्योंकि दुनिया के बहुत सारे ऐसे देश है जो भारत का आयात अधिक मात्रा में कर रहे हैं। जिससे हमारे देश के किसानों का क्षेत्र में और भी बढ़ गई है।

आपको बता दूं कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के तरफ से यह रिपोर्ट आई हुई है कि उसके अंतर्गत हमारे देश के राज्यों में कुछ प्रकार के फलों से हमारे किसानों की आय (जैसे कि कर्नाटक में कपास महाराष्ट्र में सोयाबीन) वित्तीय वर्ष  2017 से लेकर 2018 के स्तर से आज तक के 2021 से लेकर 2022 के वित्तीय वर्ष में लगभग दोगुनी हो चुकी है। जबकि दूसरे सभी फसलों के मामले में बताया जा रहे कि यह 1.3 से लेकर 1.7 गुना की सीमा में अधिक वृद्धि हो चुकी है।

देश के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के मुख्य अर्थशास्त्री जो है अर्थात माननीय सौम्या कृति घोष जी ने  एक सूचना के तहत यह जानकारी प्रदान की है कि हमारे देश के अंदर गैस नगदी फसल उपज करने वाले कृषक की तुलना में नगदी फसल के तहत लगे हुए किसानों का आय सबसे अधिक वृद्धि हुई है।

महत्वपूर्ण पोस्ट पढ़ें:-

आखिर किस प्रकार से हमारे देश में प्राकृतिक रबड़ की सीमा पर हुई भारी गिरावट 

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 2022: जिस प्रकार से सूत्रों के मुताबिक यह पता चल रहा है कि हमारे देश के सकल घरेलू उत्पादन में खेती का हिस्सेदारी के क्षेत्रों में काफी मात्रा में वृद्धि हो चुकी है। पहले यह हिस्सेदारी का क्षेत्र 14.2% तक था, किंतु अब यह 14.2% से लेकर 18.8% तक हो चुकी अर्थात कहा जाए तो इसमें 4.6% तक की वृद्धि हो चुकी है। इस विधि का एक मुख्य कारण बताया जा रहा है कि देश मैं करो ना जैसी महामारी के दूसरे फेज के दौरान  देश की अर्थव्यवस्था में औद्योगिक क्षेत्र तथा सेवाएं मैं योगदान  काम था।

किंतु इस बात से स्पष्ट रूप से कहा जा रहा है कि हमारे देश में किसान के द्वारा उगाए गए अनेक प्रकार के मसाले जैसे काली मिर्च इलायची लौंग दालचीनी तथा प्राकृतिक रबड़ की कीमत पर काफी मात्रा में गिरावट हुई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह पता चल रहा है कि देश के कई ऐसा राज्य है जहां गैर कृषि आय में ज्यादातर राज्य में 1.4% से बढ़कर 1.8% हो चुकी है वह सभी राज्य है महाराष्ट्र मध्य प्रदेश उत्तर प्रदेश कर्नाटक और गुजरात।

pm kisan samman nidhi yojana 12 kist check

कई सारी रिपोर्ट में यह दावायाकिया गया है कि केंद्र सरकार हमारे देश के किसानों को प्रत्येक वर्ष कम से कम 1000000 कृषकों को लक्ष्य करके अर्थात लक्ष में रखकर उनके आजीविका क्रेडिट कार्ड तथा 500000 करोड रुपए की खेती करने  के लिए लोन की भीप्रोत्साहन कहा जाए तो चला पर क्रेडिट गारंटी फंड भी आराम करने का मुख्य अनुरोध किया गया है।

जाने किन किन किसानों के पैसे हो सकते हैं पेंडिंग लिस्ट 

PM Kisan Samman Nidhi Yojana 2022: मैं बता दूं कि हमारे केंद्र सरकार द्वारा पीएम किसान योजना का शुभारंभ किया गया था, जिसके अनुसार भारत के करोड़ों किसान भाइयों को हर तरह से विशेष रूप से कहा जाए तो आर्थिक संकट से निकालने के लिए काफी मात्रा में सहायता प्रदान की गई है। अर्थात अर्थात सिलसिला अभी तक जारी है। 

किंतु ऐसी स्थिति में कई सारे ऐसे किसान भाई है जो इस पीएम किसान योजना में तो आवेदन कर चुके हैं हाल ही में परंतु उनके रजिस्ट्रेशन के दौरान कुछ गलत जानकारियां भरने के प्रारूप में उन सभी किसानों के बारे में किसका पैसा पेंडिंग लिस्ट में कर दिया गया है ऐसे में जितने भी आवेदन करता किसान होंगे उन सभी को यह जानकारी गलत भरने की बात की जा रही है| वह रजिस्ट्रेशन के दौरान कहीं ना कहीं अपने नाम पर कुछ गलतियां कर दी है अथवा वे हिंदी भाषा में नाम दर्ज किए हैं या वे सब किसान अपने बैंक अकाउंट में दाखिल हुए नाम से अलग नाम दर्शाएं हैं|

आवेदन भरने के समय जिस कारण से उनका पैसा 12वीं किसका इस प्रक्रिया के समय अभी तक रुका हुआ है सूत्रों से यह बात स्पष्ट बता दिया गया है कि किसान लोग आवेदन करते समय अपने कृषि पात्र भूमि से संबंधित कुछ गलत जानकारियां प्रदान की होंगी इस वजह से उनका पैसा अटका हुआ है तो आप सभी किसान भाइयों से जल्द से जल्द उसी गलती को सुधारें और लाभ उठाएं।

महत्वपूर्ण पोस्ट पढ़ें:-

निष्कर्ष-

तो दोस्तों जैसा कि मैंने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बताया है कि पीएम किसान योजना के तहत किसानों को मिली बड़ी खुशखबरी पहले जाने कौन कौन से बैंक ने किया खुलासा, किसानों को नकदी फसल में लगे आय में हुई भारी बढ़ोतरी जाने कैसे, आखिर किस प्रकार से हमारे देश में प्राकृतिक रबड़ की कीमत पर हुई भारी गिरावट तथा जाने किन-किन किसानों के पैसे हो सकते हैं पेंडिंग लिस्ट में ऐसे विषयों की तमाम खबरों से आपको अवगत कराया।

आशा है कि आप को यह आर्टिकल काफी पसंद आया होगा तथा मददगार साबित भी हो सकता है। तो दोस्तों इस से जुड़े किसी भी प्रकार का सवाल हो तो कृपया आर्टिकल को पूरा पढ़ कर उसका जवाब प्राप्त करें।

Important Links

Official WebsiteClick Here
CGWAS HomeClick Here
Join TelegramClick Here

Leave a Comment