Ration Card: अब कार्ड धारकों को निःशुल्क नहीं मिलेगा राशन, जानिए क्या मिलेगा इस बार निःशुल्क

Ration Card Online Check: नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का हमारे इस लेख में, खाद उत्पादन की दृष्टि से यदि हम अपने देश को देखे तो यह किसी से कम नहीं है किंतु उसके पश्चात भी देश के भीतर यह परिस्थिति है कि लोगों के पास खाने हेतु अन्नय अनुपस्थित है। किंतु यदि इसके कारण कि यदि बात की जाए तो , हमारे देश में विद्यमान लोगों के मध्य की असमानता है। कहने का तात्पर्य है कि हमारे देश में बहुत ही अधिक असमानता है भले ही संविधान के द्वारा हमें समानता का अधिकार प्रदान किया गया है किंतु फिर भी असमानता आज भी विद्यमान है। 

यह असमानता आय के अनुसार , उम्र के अनुसार , लिंग के अनुसार‌ , जाति के अनुसार , तथा योग्यता के अनुसार की जाती। किंतु इसके परिणाम स्वरूप होने वाले दिक्कतों को कम करने हेतु सरकार बहुत ही प्रयास करती रहती है। हमारे देश में गरीबी और अमीरी की एक ऐसी दीवार खड़ी हो गई है जिसके आर पार में बहुत ही अधिक संख्या में लोग विद्यमान हैं। बहुत सी ऐसी चीज है जिनके लिए आम नागरिक को बहुत ही अधिक संघर्ष करने की आवश्यकता होती है। उन्हीं चीजों में से एक है राशन। 

जाने राशन कार्ड योजना क्या है

राशन कार्ड योजना के तहत सभी लाभार्थियों को बाजार में उपस्थित मूल्य दरों की तुलना में बेहद कम मूल्य दरो में हर महीने राशन उपलब्ध कराया जाता है। राशन कार्ड योजना का नियंत्रण हमारे देश में सरकार के हाथों में होता है। केंद्र सरकार यह निर्धारित करती है कि किन लोगों को इस योजना के तहत मुफ्त में राशन उपलब्ध कराया जाएगा। राशन कार्ड योजना के तहत जो राशन उपलब्ध कराया जाता है उसकी कीमत बहुत ही ज्यादा कम होती है। जो इस महंगाई भरे दौर में सभी मध्यवर्गीय निम्न वर्गीय परिवारों के लिए राहत प्रदान करता है। 

Ration Card में होने वाला वेरिफिकेशन

राशन कार्ड योजना के तहत समय-समय पर लाभार्थी सूची में वेरिफिकेशन किया जाता है जिसमें की अपात्र तथा मृत लोगों को इस योजना से बेदखल कर दिया जाता है। वहीं नए सदस्यों को इसमें जोड़ा जाता है। इन नए सदस्यों में मुख्य रूप से नवविवाहिता तथा नए बच्चे शामिल होते हैं। यह बच्चे अभिभावकों द्वारा जन्म दिए जाते हैं अथवा गोद लिए जाते हैं। इसके साथ ही नवविवाहिता की नाम को राशन कार्ड में तभी बढ़ाया जाता है जब उसके विवाह को प्रमाणित कर दिया जाता है। 

Ration कार्ड के प्रकार

हमारे देश में केंद्र सरकार की ओर से मध्यवर्गीय तथा निम्न वर्गीय परिवारों को राशन कार्ड उपलब्ध कराया जाता है। राशन कार्ड में भी विभिन्नताएं उपस्थित होती है इन भी बतो के बारे में हम आपको विस्तारपूर्वक बताएंगे। 

  • एपीएल राशन कार्ड:-हमारे देश में एपीएल राशन कार्ड केवल उन लोगों को प्रदान किया जाता है जो अपना जीवन यापन गरीबी रेखा के ऊपर करते हैं और उनकी वार्षिक आय ₹10000 से अधिक होती है। 
  • बीपीएल राशन कार्ड:-हमारे देश में बीपीएल राशन कार्ड उन लोगों को प्रदान किया जाता है जो अपना जीवन यापन गरीबी रेखा के नीचे करते हैं और उनकी वार्षिक आय लगभग ₹1000 से भी अधिक नहीं होती है। 
  • अंत्योदय राशन कार्ड:-हमारे देश में अंत्योदय राशन कार्ड उन लोगों को प्रदान किया जाता है जिनके पास आय का कोई स्रोत ही नहीं होता है। अंत्योदय राशन कार्ड हमारे देश में प्रदान किए जाने वाले सबसे ज्यादा दुर्लभ दस्तावेजों में से एक है। 

अब राशन कार्ड धारकों को भुगतान करना पड़ेगा

कार्ड धारकों को राशन की दुकान से जो निशुल्क राशन प्राप्त हो रहा था अब वह उन्हें नहीं प्राप्त होगा। अब उन्हें इसके वास्ते भुगतान करने की आवश्यकता होगी। 

उत्तर प्रदेश राज्य में राशन कार्ड को लेकर हुआ परिवर्तन

राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत उत्तर प्रदेश सरकार के तरफ से प्रदान किए जाने वाले राशन के लिए अब लोगों को भुगतान करना पड़ेगा। आप को इस बात से अवगत करा दें कि आप सभी राशन कार्ड धारकों को गेहूं के वास्ते ₹2 प्रति किलो वही चावल के वास्ते प्रति किलो की दर से रुपयों का अनुदान करना होगा। इस संबंध में जिले के सभी पूर्ति अफसरों को निर्देश प्रदान कर दिया गया है। 

एक अन्य बात आवश्यक है

हम आप को इस बात से अवगत करा दें कि उत्तर प्रदेश में 1 महीने में दो बार राशन निशुल्क बांटा जाता है। अर्थात वहां पर कार्ड धारकों को किसी भी प्रकार के मूल्य को प्रदान करने की आवश्यकता नहीं होती है। उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से दूसरा केंद्र सरकार की तरफ से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत अब उत्तर प्रदेश सरकार ने अपनी व्यवस्था में परिवर्तन कर दी है। इसके अंतर्गत आपको भुगतान करने की आवश्यकता होगी। किंतु एक बात का स्मरण रहे की केंद्र सरकार की ओर से मिलने वाले राशन पर आपको किसी भी प्रकार का शुल्क प्रदान करने की आवश्यकता नहीं है। 

मीडिया रिपोर्ट

एक मीडिया वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार खाद्य तथा रसद विभाग के अपर आयुक्त अनिल दुबे ने यह बात की स्पष्टीकरण प्रदान कर दी है कि इस योजना में नेफेड के अंतर्गत मिलने वाले 1 किलो नमक , 1 किलो चीनी , 1 किलो रिफाइंड तेल इत्यादि निशुल्क प्रदान किया जाएगा। राशन का भुगतान आपको करना होगा। राशन निशुल्क नहीं बांटा जाएगा। आपका एक अन्य बात भी जान लेना आवश्यक है कि इसके अंतर्गत पात्र गृहस्थी लाभार्थी कार्ड पर प्रति यूनिट 5 किलो का स्थान प्रदान किया जाएगा। इसमें 2 किलो गेहूं तथा 3 किलो चावल प्रदान किए जाएंगे। इसके साथ यदि आपके पास अंत्योदय राशन कार्ड उपलब्ध है तो इसमें आपको 35 किलो अनाज प्रदान किया जाएगा। जिसमें 14 किलो गेहूं वही 21 किलो चावल शामिल होगा। 

ration card online check

निष्कर्ष:-

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको एक बहुत ही आवश्यक जानकारी प्रदान की है। जिसके तहत अब राशन कार्ड धारकों को मुफ्त में राशन प्रदान नहीं किया जाएगा से संबंधित जानकारियां उपस्थित है। हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा प्रदान की गई यह सभी जानकारी आपके लिए बेहद लाभकारी सिद्ध होगी। यदि आप हमसे कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं अथवा हमें कोई सुझाव देना चाहते हैं तो यह कार्य आप कमेंट के जरिए तुरंत कर सकते हैं। इसके साथ ही साथ इस आर्टिकल को अधिक से अधिक लोगों तक जरूर शेयर करें,धन्यवाद। 

महत्वपूर्ण पोस्ट पढ़ें:-

Important Links

Official WebsiteClick Here
Check Ration Card New ListClick Here
CGWAS HomeClick Here
Join TelegramClick Here

Leave a Comment