RBI New Rule 2022: मोबाइल पेमेंट वाले ध्यान दे, Flipkart, Amazon से लेकर सारे Online Payment पर लागू

RBI New Rule 2022: यदि आप होने वाले परिवर्तनों पर ध्यान केंद्रित करते हैं। तो आपने भी यह बात अवश्य ही अनुभव की होगी कि पिछले कुछ महीनों से पेमेंट की विधि में बहुत बड़ा परिवर्तन आया है। अब सब कुछ मानो कैशलेस हो चला है। प्रत्येक व्यक्ति के पास इन दिनों पेमेंट एप्लीकेशन होते हैं। जिनके माध्यम से वह पेमेंट करते हैं। इससे बहुत सारे फायदे होते हैं। सर्वप्रथम तो लोगों को पैसों के गुम होने की कोई चिंता नहीं होती है। 

पेमेंट एप्लीकेशन कैशलेस है यदि कोई व्यक्ति पेमेंट करता है , तो उसके लिए उसे अपना यूपीआई पिन लेना होता है और यूपीआई पिन केवल उसी व्यक्ति को पता होती है। जिस के पास पेमेंट एप्लीकेशन मौजूद होते हैं तथा वे उनका प्रयोग कर रहे होते हैं। 

कैश पेमेंट से लेकर कैशलेस पेमेंट तक

जब भी किसी व्यक्ति को कुछ खरीदने की आवश्यकता होती है। तो दुकान में जाकर खरीद लेता है और लगने वाले रुपयों को भुगतान कर देता है। किंतु बीते कुछ वर्षों से भुगतान करने की विधि में बहुत बड़ा परिवर्तन आया है। पहले लोग भुगतान करने हेतु सीधे करंसी का प्रयोग किया करते थे। दुकान पर जा कर सामान लेते और उसके अनुसार पैसों का भुगतान कर दिया करते। किंतु अब भुगतान करने की इस पद्धति में बहुत बड़ा परिवर्तन आया है। 

लोग अब कैश के जहां कैशलेस पेमेंट किया करते हैं। जिसके माध्यम से चंद पलों में पैसों का भुगतान हो जाता है और यह भुगतान पूरी तरह से सुरक्षित होता है। कैशलेस पेमेंट के माध्यम से भुगतान किया जाना सरल तो है ही इसके साथ ही इससे पैसों की चोरी होने तथा पैसों के गुम होने जैसी घटनाएं भी बहुत ही अधिक कम हो गई है। इसके साथ ही पैसों का अनुदान करना इतना आसान हो गया है। जितना की किसी व्यक्ति को मैसेज सेंड करना। 

ज्यादातर मोबाइल कंपनियां करती है यह सभी कार्य

ज्यादातर आप मोबाइल पेमेंट एप में छोटे-छोटे लोन का ऑफर जरूर देखते होंगे। जैसे कि By Now Pay Later का भी विकल्प आप में से अधिकतर लोगों ने जरूर देखा होगा। इसके अतिरिक्त सहारे ई-कॉमर्स पर भी लोगों के द्वारा जमकर शॉपिंग करवाई जाती है। यह मोबाइल पेमेंट के बहुत से विभिन्न प्रकार के मर्चेंट होते हैं। जो एक साथ टाइप करके लोगों को छोटे-छोटे लोन प्रदान कराए जाते हैं इसके साथ ही उनके सपनों को पूरा करने हेतु EMI की बातें भी की जाती है।

भारत के साथ-साथ विश्वभर में ऑनलाइन पेमेंट या फिर यह कहे कि डिजिटल पेमेंट बहुत ही तेजी से विस्तृत हो रही है। इसका प्रयोग इन दिनों हर आम आदमी के माध्यम से किया जा रहा है। इसके ही दौरान आरबीआई अर्थात रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने ऐसे प्लेटफार्म के वास्ते नया रेगुलेशन को जारी कर दिया है। इसके परिणाम स्वरूप इन सारे फिनटेक कंपनियों में हड़कंप मच चुका है। 

आसानी से मिल जाता है लोन

मोबाइल एप आधारित छोटे-मोटे लोन लेने में तो बहुत ही ज्यादा आसान दिखाई पड़ते हैं। किंतु यह लोन लेने के पश्चात उस पर बिना नियम के प्रोसेसिंग चार्ज , सही समय पर लोन जमा करने पर वित्तीय हताशा , जुर्माना तथा लोगों को मानसिक प्रताड़ना अलग से दी जाती है। 

आरबीआई के द्वारा लगाए गए नए नियम

आरबीआई  अर्थात रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया में ग्राहकों के डाटा को बिना ग्राहकों की मर्जी के ना तो इस्तेमाल करने की इजाजत दी है और ना ही BY NOW PAY LATER जैसे स्कीम के आड़ में ग्राहकों को मानसिक तथा वित्तीय रूप से परेशान करने की अनुमति दी है। आरबीआई के द्वारा सीधे तौर पर यह कहा जा चुका है कि प्रोसेसिंग शुल्क आगे के सारे सारे पारदर्शी जब तक नहीं होंगे इन पर से प्रतिबंध को नहीं हटाया जाएगा।  जब से इस नियम को लागू किया गया है तब से हो रही बेईमानी के ऊपर लगाम कसी जा सकती है। इसके अतिरिक्त लोगों के द्वारा दिए जाने वाले ऑनलाइन लोन को और भी अधिक सुरक्षित बनाया गया है। 

सावधान रहें

यदि आप भी ऑनलाइन लोन की तलाश में है तो आपने भी यह बात जरूर कभी ना कभी गौर की होगी कि कुछ ऑनलाइन प्लेटफॉर्म या फिर एप्लीकेशन आप को लोन देने से पूर्व ही कुछ पैसे जमा करने को कहते हैं। तत्पश्चात ही लोन देने की बात की जाती है। किंतु इस बात की कोई गारंटी नहीं होती है कि आपके द्वारा धन के भुगतान के पश्चात भी आपको लोन के पैसे प्रदान की जाएगी।इसलिए यदि आप ऑनलाइन लोन प्राप्त करना चाहते हैं। तो कोई भी पेमेंट लोन प्राप्ति से पूर्व ना करने की कोशिश करें। इस प्रकार से आप होने वाली धोखाधड़ी से भी बच सकते हैं। 

समय पर ईएमआई नहीं देने पर की जा सकती है कार्यवाही

यदि आपने ऑनलाइन माध्यम से लोन प्राप्त किया है और समय पर उसकी ई एम आई का भुगतान नहीं कर रहे हैं तो इसके परिणाम स्वरूप आप पर कानूनी कार्यवाही की जा सकती है। इसलिए यदि आप ऑनलाइन माध्यम से लोन प्राप्त करते हैं। तो इसके लिए अत्यावश्यक है की आप समय-समय पर उसके ई एम आई का भुगतान जरूर करें। उसके परिणाम स्वरुप ही आपके सिविल स्कोर्स में वृद्धि की जाएगी। आपका सिविल स्कोर जितना अधिक होगा आपको लोन प्राप्ति हेतु उतने ही अच्छे अवसर प्राप्त होंगे। क्योंकि लोन प्रदान करने वाले कंपनियों के द्वारा सिविल इसको देखकर ही लोन मुहैया कराई जाती है। 

आवश्यकता पड़ने पर ही ले लोन

क्योंकि ऑनलाइन माध्यम से लोन प्राप्त करना इन दिनों आसान कर दिया गया है इस वजह से लोग छोटे-मोटे आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु भी लोन को ले लेते हैं। किंतु जिस प्रकार से वे लोन को लेते हैं उस प्रकार से उसका भुगतान समय पर नहीं कर पाते हैं। इसके परिणाम स्वरूप उनका सिविल सपोर्ट खराब हो जाता है। तथा दोबारा से लोन प्राप्ति हेतु थोड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। इस वजह से सभी लोगों को इस बात की सलाह दी जाती है कि जब ज्यादा आवश्यकता हो तभी लोन प्राप्ति हेतु आवेदन करें। 

rbi new rule 2022

निष्कर्ष :-

इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको आरबीआई के द्वारा लागू किए गए नए नियमों के विषय में विवरण प्रदान किया है। हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा प्रदान की गई है सभी जानकारी आपको बहुत ही ज्यादा पसंद आई होगी, धन्यवाद। 

महत्वपूर्ण पोस्ट पढ़ें:-

Important Links

Official WebsiteClick Here
CGWAS HomeClick Here
Join TelegramClick Here

1 thought on “RBI New Rule 2022: मोबाइल पेमेंट वाले ध्यान दे, Flipkart, Amazon से लेकर सारे Online Payment पर लागू”

Leave a Comment