Health

Benefits of Mint : पुदीने के पत्ते बस ऐसे खाना कर दें शुरू, फिर देखिए Acidity और वजन कैसे होता है कम

आम का पना हो या चटनी, पुलाव हो या कोई सब्जी हर फूड का स्वाद बढ़ाने के साथ ही पुदीना एक औषधि के रूप में भी उपयोग होता है.

आम का पना हो या चटनी, पुलाव हो या कोई सब्जी हर फूड का स्वाद बढ़ाने के साथ ही पुदीना एक औषधि के रूप में भी उपयोग होता है.

गर्मी से बचाने के लिए पुदीना रामबाण की तरह काम करता है. मिनरल्स के साथ ही पुदीना विटामिन-सी का भी बेहतरीन सोर्स है.

आयुर्वेद के अनुसार पुदीने को वायु नाशक जड़ी-बूटी माना जाता है. पुदीने से सीने में जलन, मितली और एसिडिटी में भी राहत मिलती है. पुदीने के पत्ते के सेवन से सेहत को कई सारे लाभ होते हैं.

आयुर्वेद के अनुसार पुदीने को वायु नाशक जड़ी-बूटी माना जाता है. पुदीने से सीने में जलन, मितली और एसिडिटी में भी राहत मिलती है. पुदीने के पत्ते के सेवन से सेहत को कई सारे लाभ होते हैं.

पाचन तंत्र को बनाता है मजबूत

नाक बंद हो तो पुदीने के पत्ते को सूंघने से लाभ होता है. गले में खराश हो रही हो तो पुदीने का काढ़ा बना कर पीने से आराम महसूस होता है.

सर्दी जुकाम में लाभकारी

पुदीने के बेस वाले बाम या पुदीना का तेल लगाने से सिरदर्द में आराम मिलता है.

सिरदर्द में आराम 

पुदीना में रोगाणुनाशक गुण होते हैं, इसके पत्तों को चबाने से सांस से आने वाली बदबू दूर हो जाती है. इसके साथ ही ये मुंह के कीटाणुओं को भी मारता है और ओवरऑल ओरल हेल्थ का ख्याल रखता है.

ओरल केयर 

पुदीना में कैलोरी काफी कम होते हैं, इसका सेवन करते हैं तो आप एक्स्ट्रा कैलोरी लेने से बच पाते हैं. स्ट्रेस की वजह से भी वजन कई बार बढ़ जाता है, पुदीने के पत्तों में ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस कम करने के गुण होते हैं.

वजन कम करने में मददगार

पुदीना स्किन सेल्स को नई उर्जा देता हैं, इसलिए तो कई सारे ब्यूटी प्रोडक्ट्स में पुदीने का इस्तेमाल होता है. इससे त्वचा की नमी भी बरकरार रहती है.

पुदीने से पाए निखार

जी मिचलाने या उल्दी होने पर पुदीना का सेवन काफी फायदेमंद होता है. ये माउथ फ्रेशनर की तरह भी यूज किया जाता है. जी मिचलाने पर आप पुदीने के पत्तों को चबाकर खाएं तो राहत मिलेगी.

जी मिचलाने पर खाएं पुदीना