एक सुरक्षा गार्ड को काम नहीं था तो उन्होंने 7.5 करोड़ की पेंटिंग पर आंखें बना दी?

रूस में एक आर्ट गैलरी के सुरक्षा गार्ड ने सोवियत के बहुत पुराने जमाने के पेंटिंग पर इसीलिए आंखें बना दी क्योंकि उन्हें और कुछ काम नहीं था. यह उनके जॉब का पहला दिन था जब वह काम पर गए थे.

नया जॉब ज्वाइन करके वे सुरक्षा गार्ड के तौर पर अप्वॉइंट किए गए थे और आर्ट गैलरी मैं अपनी शिफ्ट पूरा करने गए थे.

दिसंबर के महीने में येकातेरिनबर्ग में येल्तसिन केंद्र के दौरान दो विजिटर वहां पहुंचे थे जिन्होंने एना लेपोर्स्काया के काम थ्री की पेंटिंग में बॉलपॉइंट पेन में खींची हुई आँखें देखीं.

avant-garde painting में 3 abstract है जिनमें कोई आंख नहीं थी. सुरक्षा गार्ड ने इन्हीं बिना आंख वाले कलाकृतियों पर आंखें बना दी वह भी सिर्फ एक बॉल पॉइंट पेन की मदद से, जिसकी वजह से उन्हें जॉब से निकाल दिया गया है और पुलिस ने उनके खिलाफ क्रिमिनल इन्वेस्टिगेशन भी बैठाई है.

येल्तसिन सेंटर के कार्यकारी निदेशक अलेक्जेंडर ड्रोज़्डोव ने एक बयान में कहा कि सुरक्षा गार्ड एक निजी सुरक्षा संगठन द्वारा नियुक्त किया गया था.