इन समस्याओं वाले लोग भूल से भी न करें तरबूज का सेवन, उठाना पड़ सकता है नुकसान

गर्मियों का सुपरफूड माना जाने वाला तरबूज काफी लाजवाब और मन को तरोताजा करने वाला होता है. तरबूज में पानी की भरपूर मात्रा मौजूद होती है, जो आपको सेहतमंद बनाता है. साथ ही डिहाइड्रेशन जैसी परेशानियों में भी तरबूज खासा असरदार होता है.

विशेषज्ञों के मुताबिक दिनभर में लगभग 300 ग्राम तक तरबूज का सेवन करना चाहिए, लेकिन क्या आप जानते हैं कि, तरबूज सभी के लिए फायदेमंद नहीं होता है. आइए जानते है किन समस्याओं वाले लोगों को तरबूज का सेवन नहीं करना चाहिए.

डायबिटीज की समस्या वाले लोगों को तरबूज से दूरी बनाए रखना चाहिए. तरबूज में पानी के साथ साथ नेचुरल शुगर भी बड़ी मात्रा में पाई जाती है.

डायबिटीज

लिहाज़ा डायबिटीज रोगियों को तरबूज का सेवन किसी भी रूप में नहीं करना चाहिए. यदि डायबिटीज की समस्या वाले लोग इस फल का सेवन करते भी हैं तो उन्हें इसका नुकसान कम करने के लिए बादाम या अखरोट का सेवन करना चाहिए.

किडनी संबंधी बीमारी वाले रोगियों को भूलकर भी तरबूज का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि तरबूज में मौजूद मिनरल्स से किडनी को नुकसान पहुंचने का खतरा और भी बढ़ जाता है. विशेषज्ञों के मुताबिक तरबूज में भारी मात्रा में पानी मौजूद होता है.

किडनी

किडनी संबंधी बीमारी वाले कई रोगी ऐसे भी होते है जिनके शरीर में यूरीन बन भी नहीं पाता है, ऐसे में तरबूज में मौजूद पानी को यूरिन में तब्दील नहीं कर पाता है, और इस स्थिति में हार्ट फेल होने की संभावना बढ़ सकती है.

अस्थमा के रोगियों को भी तरबूज के सेवन से बचना चाहिए. तरबूज में भरपूर मात्रा में पानी मौजूद होता है और तरबूज की तासीर ठंडी होती है इसलिए अस्थमा रोगियों को इस फल का सेवन नहीं करने की सलाह दी जाती है. विशेषज्ञों के अनुसार तरबूज में अमीनो एसिड पाया जाता है, जिससे अस्थमा की समस्या वाले लोगों की तकलीफ बढ़ सकती है.

अस्थमा

-सर्दी-खांसी की समस्या -गठिया रोग -गले में खराश की समस्या -एलर्जी की शिकायत -साइनसाइटिस रोग

इन स्थितियों में भी ना करें तरबूज का सेवन